Sad Story In Hindi

दोस्तों आज हम आपके लिए सैड लव स्टोरी (Sad Story In Hindi) लेकर आए हैं। इस कहानी में आप पढेंगे की एक लड़के ने अपने प्यार को खुश करने के लिए अपना सब कुछ लगा दिया उसके बाद भी उसके साथ जो हुआ वह हैरान करने वाला है। ऐसा बहुत। बार होता है जब अपने प्यार के लिए सब कुछ कर के भी हमारे दिल को दर्द ही मिलता है।

Sad Story In Hindi

यह कहानी (Sad Story In Hindi) दरअसल यह बताती है कि प्यार में कितनी बड़ी बातें छुपी हो सकती हैं और कैसे व्यक्ति अपने प्यार के लिए हर संभावित कठिनाईयों को देखते हुए भी हार नहीं मानना चाहता है। राज ने प्रिया के लिए अपनी जिंदगी की सभी सुख-दुःख बाँट दी और उसका साथ दिया। परंतु, जब प्रिया ने राज को अपनी अंधाई की बात बताई, तो राज ने उससे प्यार करना जारी रखा और उसकी मदद करने का संकल्प लिया।

Sad Story In Hindi यह कहानी है प्रिया और राज की जो एक बहुत खूबसूरत शहर में रहते थे जिसको तालाब की नगरी भी कहा जाता है। राज को गांव में रहना बहुत पसंद था पर वह एक बार काम के लिए शहर आया और उसे प्रिया मिल गई और दोनों को ढूंढ। एक दूसरे से प्यार हो गया। रिया बचपन से ही अंधी थी। उसको कुछ भी दिखाई नहीं देता था। राज ने उसको बड़े बड़े डॉक्टरों को दिखाया पर कुछ हासिल नहीं हुआ।

प्रिया हमेशा राज से कहा करती काश वह एक बार राज को ढूंढ। देख पाए। दोनों एक दूसरे के साथ बहुत खुश थे पर प्रिया के अंधे होने का दुःख उसकी हर खुशी में आने लगा था। राज सब कुछ कर भी उसका दुःख कम नहीं कर पा रहा था।

राज दिनभर काम करता और साथ में प्रिया की देखभाल भी करताराज की देखभाल देखर पड़ोसियों को जलन तक होने लगती। राज के प्यार के चर्चे पूरे मोहल्ले में थे और हर लड़की राज जैसा प्यार करने वाले लड़के की तलाश करती। राज ने पूरे घर को प्रिया की। तस्वीरों से सजा रखा था। घर में इसकी चीज नहीं थी, जिससे प्रिया को चोट लग सके। Sad Story In Hindi

इसके लिए राज ने नुकीली टेबलों के कोनों पर सॉफ्ट पट्‌टी लगाई और घर के सरे दरवाजों के नीचे से चौखट तक निकलवा दी। राज। प्रिया को समय समय गिफ्ट और बाहर घूमने भी लेता और उसके अकेलेपन को दूर करने की कोशिश करता। राज की सब इतनी तारीफ करते कि अब प्रिया को ऐसा लगने लगा जैसे उसकी कोई वैल्यू ही नहीं है। प्रिया के अंधे होने का दुःख और बढ़ता चला जाता और धीरे धीरे किसी बात में खुस नहीं होती और बस अंधे होने का रोना रोती रहती।

एक दिन शहर में विदेश से बहुत बड़े डाक्टर आये जिनको देखने राज प्रिये को लेकर गया। डाक्टर ने राज से कहा इनकी आँखें कभी ठीक नहीं हो सकती पर अगर कोई इनको आँख दे दे तो बात बन सकती है। राज की जिन्दगी में प्रिया के अलावा कोई नहीं रहता है और राज प्रिया से अपनी जान से ज्यादा प्यार करता है। वह सब कुछ छोड़ कर प्रिया। के लिए आंखों की खोज करने लगता है राज। हर छोटी खुशी प्रिया के साथ ही देखना चाहता है और वह प्रिया को जब भी समझाने की कोशिश करता, प्रिया यह कहकर उसको चुप करा देती की तुम अंधों का दर्द क्या समझोगे।

कुछ ही दिनों में प्रिया का जन्मदिन आने वाला था। राज इस बार उसको अब तक का सबसे अच्छा गिफ्ट देने वाला था। प्रिया को गिफ्ट के बारे में तो अंदाजा था पर उसको यह उम्मीद नहीं थी कि उसको इतना बड़ा गिफ्ट मिल जाएगा। प्रिया के बर्थडे पर राज उसको डाक्टर के पास ले जाता है और उसकी आंखों का ऑपरेशन करवा देता है। आज प्रिया बहुत खुश थी मानो आज उसको सब कुछ मिल गया हो। पर उसका इन्तजार एक और दुःख रहा था। Sad Story In Hindi

प्रिया ने पहली बार राज को देखा और उसके सामने पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई। प्रिया ने देखा राज तो अंधा है। पर वह यह सोचकर परेशान थी कि आखिर उसको अब तक इस बात का पता कैसे नहीं चला। कुछ दिन में ही प्रिया राज के अंधेपन से। परेशान हो गई।

एक दिन उसने राज से कहा, तुम को अच्छा लगे या बुरा पर मैं एक सच तुम से कहना चाहती हूं। आखिर कोई अन्धे के साथ अपनी जिन्दगी कैसे निकल सकता है? जब हम दोनों अंधे थे तब बात अलग थी पर आज मुझे सब। दिखने लगा है और मैं अपनी ज़िन्दगी जीना चाहती हूँ। अगर मैं तुम्हारे साथ रहूंगी तो मैं घूम नहीं पाऊंगी, न कुछ कर पाऊंगी। सारी जिंदगी तुम्हारे काम में नहीं निकल जाएगी।

प्रिया के इन शब्दों ने राज के दिल को हजारों टुकडों में तोड दिया। राज को इतना दर्द आज से पहले कभी नहीं हुआ था। आज की आंखों से आंसुओं की धारा बहने लगी। अपने जज्बात को संभालते हुए राज ने प्रिया से बस इतना कहा, तुम हमेशा अपना ख्याल रखना और मेरी आंखों का भी। इतना कहकर राज प्रिया से हमेशा हमेशा के लिए दूर चला गया। अब आप ही बताएं।

आप राज की जगह होते तो क्या करते? हद से ज्यादा प्यार और त्याग के बाद भी जब कोई ऐसा निकले तो क्या ही कर सकते हैं।

Read more –

Leave a Comment