Heart Touching Motivational Story In Hindi

हम इस कहानी में आपको Heart Touching Motivational Story In Hindi  के अंतर्गत आने वाली समझदार शिष्य की कहानी के बारे में बताने वाले हैं।यह कहानी हार्ट टचिंग मोटिवेशनल  स्टोरी इन हिंदी के अंतर्गत एक समझदार शिष्य की कहानी है। जिसमे शिष्य अपनी समझदारी दिखाकर अपने जीवन को कैसे सफल बनाता है।

Heart Touching Motivational Story In Hindi :- समझदार शिष्य

बहुत पुरानी बात है पहाड़ों के बीच में एक बहुत सुंदर गांव था जिसमें एक मास्टर जी रहा करते थे, मास्टर जी कक्षा छठवीं के छात्रों को पड़ा रहे थे सभी के पेपर नजदीक आ गए थे इसलिए बच्चे तनाव में थे। 

Heart Touching Motivational Story In Hindi :- समझदार शिष्य

 मास्टर जी ने सोचा आज सब का मन बहलाया जाए ताकि बच्चों का तनाव कम हो सके, मास्टर जी ने सभी बच्चों को एक ₹500 का नोट दिखाए और सभी से पूछा अगर मैं यह नोट तुमको दे दूं तो तुम लोग इसका क्या करोगे ? 

सभी बच्चों ने अलग-अलग उत्तर दिए किसी ने कहा शहर में जाकर पिज्जा खाऊंगा ,किसी ने कहा मैं नए कपड़े लूंगा, तो किसी ने कहा कि मैं फिल्म देखने जाऊंगा ,सभी बच्चों की अपनी-आप की ज़रूरतें थी और सबके अपने-अपने मजे करने के तरीके थे। 

 तभी क्लास में रमेश नाम का लड़का खड़ा हुआ और उसने मास्टर जी से कहा मैं इन पैसों से एक नया प्रेस खरीदूंगा, मास्टर जी उस लड़के के जवाब से आश्चर्यचकित थे उन्होंने कहा तुमको प्रेस की क्या जरूरत है और प्रेस तो तुम्हारे पिताजी भी खरीद कर दे सकते है , रमेश ने कहा मेरे पिताजी कुछ साल पहले गुजर गए हैं, मेरी मां दूसरों के कपड़ों पर प्रेस करके मेरा और घर का खर्च उठाती है। 

 कुछ समय पहले हमारा प्रेस जल गया है इसलिए मां को कोयले वाले प्रेस का इस्तेमाल करना पड़ता है जिसमें उनको बहुत मुश्किल जाती है और वह परेशान हो जाती है परंतु हमारे घर की स्थिति अच्छी नहीं है इसलिए हम प्रेस नहीं खरीद पाते हैं ।

रमेश की बात सुनकर मास्टर जी की आंखें नम हो गई और उन्होंने रमेश को बुलाया और ₹2000 दिए और साथ में कहा यह ₹500 प्रेस के लिए है और यह ₹1500 मैं तुमको उधार दे रहा हूं ताकि जब तुम बड़े आदमी बन जाओ तो यह रुपए किसी नेक काम में लगाना ।

Heart Touching Motivational Story In Hindi :- समझदार शिष्य

बहुत साल गुजर जाते हैं तभी स्कूल के बाहर एक बड़ी सी गाड़ी आकर रूकती है मास्टर जी गाड़ी को देखकर बाहर आते हैं और देखते हैं शहर से कोई बड़ा ऑफिसर आया है जो सूट बूट में खड़ा हुआ है। 

 वह अफसर मास्टर जी के पैर छूता है और स्कूल की मरम्मत के लिए बहुत सारे पैसे देने की बात करता है मास्टर जी उसका शुक्रिया अदा करते हैं और कहते हैं भगवान तुम्हारा भला करें।

 ऐसे ही सब लोग नेकी करते रहेंगे तो जरूरतमंदों का गुजारा चलता रहेगा ,रमेश मास्टर जी को बताता है कि वह उन्हीं का छात्र है और उन्होंने जो पैसे उसको दिए थे वह उनको लौट रहा है और साथ में अपनी ओर से इतने पैसे मिल रहा है कि पूरे स्कूल की मरम्मत हो जाए। 

यह बात सुनकर मास्टर जी की छाती गर्भ से चौड़ी हो जाती है और वह सभी बच्चों को रमेश से मिलवाते हैं और रमेश से कहते हैं कि वह बच्चों को अपनी कहानी सुनाएं ताकि और बच्चे प्रेरित होकर कामयाब हो सके।

नौकरी की तलाश 

यह कहानी दो भाइयों की है,दोनों भाई साथ-साथ रहते और साथ-साथ पढ़ाई करते थे जब दोनों की पढ़ाई पूर्ण हो गई तो दोनों नौकरी के लिए शहर चले गए। दोनों की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी इसलिए श्याम ने जो भी नौकरी मिली कर ली, परंतु गोपाल अच्छी नौकरी की तलाश करता रहा.

Heart Touching Motivational Story In Hindi

 श्याम गोपाल का भी खर्चा उठा रहा था, पर उसकी नौकरी में दोनों का खर्चा बड़ी मुश्किल से हो पा रहा था, श्याम भी नहीं चाहता था कि वह यह नौकरी करें परंतु मुसीबत ऐसी थी कि उसको यह नौकरी करनी पड़ रही थी और वह हालात से भी पीछे नहीं हटना चाहता था। 

 नौकरी करने के बावजूद वह हमेशा दूसरी नौकरी ढूंढने के लिए जाता जबकि गोपाल दिनभर घर पर बैठा रहता और बड़ी-बड़ी नौकरियों के बारे में सोचता और जब कोई बड़ी नौकरी का पता चलता तभी वह जाकर इंटरव्यू देता,

 धीरे-धीरे करते-करते समय निकलता गया, दो-तीन साल हो गए थे। गोपाल ने कोई नौकरी नहीं की और श्याम नौकरी करते-करते एक्सपीरियंस पता जा रहा था.

 श्याम की नौकरी अब पहले से काफी अच्छी थी पर इतनी अच्छी भी नहीं थी जितनी अच्छी नौकरी की तलाश थी, पर वह मेहनत करना नहीं छोड़ रहा था और निरंतर लगा रहता था, 

वह गोपाल को भी बहुत समझता है लेकिन गोपाल इसी जिद में था कि जब तक उसको अच्छी नौकरी नहीं मिलेगी वह काम नहीं करेगा क्योंकि वह एक अच्छे काम के लिए ही बना है। 

 देखते-देखते समय और बीत गया और गोपाल को कोई नौकरी नहीं मिली जबकि श्याम को अब वह नौकरी मिल गई जिसकी उसकी तलाश थी।

श्याम अपनी मेहनत के बल पर एक सक्सेसफुल आदमी बन गया जबकि गोपाल सिर्फ अच्छी नौकरी की इच्छा करता रहा उसने कोई ऐसा प्रयत्न नहीं किया जिससे उसे नौकरी मिल सके, उसने ना कुछ नया सीखा और ना ही कंपटीशन के हिसाब से चला ,उसको घर पर बैठे-बैठे आवारा घूमने की लत पड़ गई और वह मेहनत से दूर भागने लगा।

श्याम ने गोपाल को समझाया और आश्वासन दिया कि अगर वह अच्छी मेहनत करेगा तो वह उसको अपनी कंपनी में काम दिलाने की कोशिश करेगा।

श्याम को कामयाब होता देख गोपाल ने भी एक छोटी सी नौकरी उसी की कंपनी में ज्वाइन कर ली और वह भी धीरे-धीरे मेहनत करने लगा गोपाल को श्याम से ज्यादा वक्त लग गया पर उसने सफलता प्राप्त कर ली ।

शिक्षा – 

दोस्तों इस कहानी से हमें यह सीखने के लिए मिलता है की मेहनत कभी नहीं छोड़ना चाहिए एक न एक दिन हमें सफलता मिल ही जाती है और हमें हमेशा अच्छी संगत रखना चाहिए जिस प्रकार गोपाल अपनी राह भटक जाता है परंतु रमेश के सक्सेस होने से उसको एक नई दिशा और उम्मीद मिलती है जिसकी वजह से वह दोबारा मेहनत चालू कर देता है और धीरे-धीरे ही सही पर सफल जरूर हो जाता है।

दोस्तों हमारे जीवन में भी ऐसे अनेक उदाहरण है जिन्होंने मेहनत के बल पर कामयाबी हासिल की है । निरंतर अपने लक्ष्य के प्रति लगे रहने से ही कामयाबी प्राप्त होती है सिर्फ बड़ा सोने से कुछ नहीं होता बड़ा करने के लिए हमें प्रयास भी करना पड़ता है और कभी-कभी तो छोटे-छोटे प्रयासों से ही हम बड़े कार्य को पूरा करने में सफल हो जाते हैं।

निष्कर्ष

Heart Touching Motivational Story In Hindi एक बहुत ही अच्छी एवं सच्ची प्रेरणादायक स्टोरी है।हमारी यह कहानी Heart Touching Motivational Story In Hindi एक सच्ची घटना पर आधारित है, अपने Heart Touching Motivational Story In Hindi में यह जाना कि कैसे हमे लगातार मेहनत करती रहनी चाहिए और अपने लक्ष्य की तरफ बढ़ते रहना चाहिए।

Heart Touching Motivational Story In Hindi हमें यह प्रेरणा देती है कि हमें अपने कार्य को निरंतर एवं अनुशासन पूर्वक करते रहना चाहिए इसके बाद हमें सफलता जरूर मिलती है। तो हमें आशा है कि आप Heart Touching Motivational Story In Hindi से जरूर सीख लेंगे और अपने जीवन में लगातार मेहनत करते रहेंगे।

तो हम आपसे आशा करते हैं कि हमारी यह कहानी Heart Touching Motivational Story In Hindi आप लोगों को जरूर पसंद आई होगी। एवं इस कहानी Heart Touching Motivational Story In Hindi आप लोगों के जीवन में एक प्रेरणादायक कहानी के रूप में उभरकर सामने आए।

अगर आप लोग ऐसी ही Heart Touching Motivational Story In Hindi से संबंधित कहानियां को रेगुलर पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारे इस पेज को फॉलो जरूर कर सकते हैं। धन्यवाद

Leave a Comment